Share On

सुरगंगा संगीत महोत्सव: दिव्यांगो और एनडीआरएफ जवानों ने जमाया देशभक्ति का रंग

  • 29/04/2017

यूनेस्को द्वारा आयोजित क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क, नगर निगम एवं सामाजिक संस्था पहल के संयुक्त तत्वावधान में चल रही सुरगंगा की आठवीं निशा देशभक्ति को समर्पित रही। देशप्रेम से ओतप्रोत होती प्रस्तुतियों ने देर रात तक श्रोताओं में राष्ट प्रेम की भावनाओं में डुबोये रखा। ‘अर्पण‘ नमन मातृभूमि को नामक इस निशा में दिव्यांग बच्चों की प्रस्तुति को सबने सराहा तो एनडीआरएफ के जवानो के सुरीले देशभक्ति गीतों ने भी खूब रंग जमाया।

भैंसासुर घाट के मुक्ताकाशीय मंच पर देशभक्ति के तराने गूंजे तो उपस्थित हजारों की भीड़ भी उनके साथ झूमने लगी। इस निशा में सबसे खास मौका तब आया जब किरण सोसाइटी के दिव्यांग बच्चो ने मंच पर माइक संभाला। उन्होंने ‘इतनी शक्ति हमें देना दाता‘ की प्रस्तुति देकर सबके रोम - रोम को द्रवित कर दिया। उसके पूर्व दिव्यांग बालिका रेणुका भारद्वाज ने देशभक्ति गीत ‘ऐ मेरे वतन के लोगो‘ प्रस्तुत किया तो सबका देश के प्रति जज्बा सामने दिखने लगा। सुरगंगा संगीत महोत्सव की देशभक्ति निशा को खास बनाने में एनडीआरएफ के जवानों ने भी योगदान दिया। आपदा के समय कुशल प्रबन्धन कर लोगो की जान बचाने वाले जवानो ने जब एक से बढ़कर एक देशभक्ति गीत प्रस्तुत किया तो कोई बिना ताली बजाये नही रह सका। उन्होंने सबसे पहले ‘मेरा कर्मा तू‘ प्रस्तुत किया। उसके बाद ‘संदेशे आते है‘, ‘ऐ प्रीत जहाॅ की रीत सदा‘ और ‘भर दे झोली मेरी‘ जैसे देशभक्ति गीतो से सबको देशभक्ति के रंग में सराबोर कर दिया। सब हाथो में तिरंगा लेकर झूमते दिखे तो एक अलग ही माहौल देखने को मिला। समारोह की पहली प्रस्तुति कैड डान्स ग्रुप के नन्हे मुन्ने बच्चो के नृत्य की रही। उन्होंने ‘नन्हा मुन्ना राही हूॅ‘, ‘ये देश है वीर जवानो का‘, ‘आओ बच्चो तुम्हे दिखाये झांकी हिन्दुस्तान की‘, ‘मेरा रंग दे बसंती‘, ‘कंधो से मिलते है कंधे‘ पेश कर खूूब वाहवाही लूटी। उसके बाद श्रेया गांधी और ईशा नागर के भरतनाट्यम नृत्य की प्रस्तुति हुई। उन्होंने ‘ये है शान बनारस की‘ पर शानदार प्रस्तुति दी। अगली प्रस्तुति यूबी राॅक बैन्ड ने दी। उन्होंने वन्दें मातरम् गीत, जय हो और सुनो गौर से दुनिया वालो गीत की प्रस्तुति देकर माहौल को देशभक्ति का रंग दे दिया। उसके बाद अगली प्रस्तुति ओडिसी नृत्य की रही। ओडिसी नर्तक राहुल के नेतृत्व में वन्दे मातरम की प्रस्तुति दी गई। इसके बाद इण्डियन आइडल एकेडमी के बच्चों ने रंगारंग प्रस्तुति देकर सबका मन मोह लिया। उन्होंने सबसे पहले ए.आर.रहमान द्वारा गाये गये वन्दे मातरम्, जय हो और देश रंगीला जैसे गीतो पर बेहतरीन नृत्य का प्रर्दशन किया। हाथ में तिरंगा लिये कलाकार सबके भीतर देशभक्ति का जज्बा पैदा कर रहे थे। समारोह में आबिद जमाल, दुष्यंत शुक्ला और वन्दना गौर ने देशभक्ति गीत ‘हिन्दुस्तान ये मेरा हिन्दुस्तान‘, ‘मेरा रंग दे बसन्ती चोला‘ और अन्त में ‘ये मेरा इण्डिया‘ पेश किया। इनके अलावा मनीष शर्मा और सौरभ मिश्रा ने भी देशभक्ति के तराने प्रस्तुत किये। इससे पहले नित्य की भाॅति समारोह का शुभारंभ केन्द्रीय देवदीपावली महासमिति के तत्वावधान में आयोजित गंगा आरती के साथ हुआ। उसके बाद सुरगंगा का थीम सांग प्रस्तुत किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि विधायक रवीन्द्र जायसवाल रहे। अतिथि का स्वागत सुनील पारिख ने किया। कार्यक्रम का संचालन घनश्याम सेठ, उत्कर्ष, ओजस्वी, अपूर्वा और नेहा ने संयुक्त रूप से किया।