Share On

चार जून को होगा भारत व पाक के बीच कांटे का मुकाबला, अभ्‍यास मैचों मे भारतीय टीम लौटी अपने पुराने रंग में, पाकिस्‍तान भी तैयार

  • 01/06/2017

इंग्‍लैंड,1 जून। चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 का फाइनल भले ही 18 जून को होगा, लेकिन पूरे विश्‍व के दर्शकों की निगाहें सबसे ज्यादा भारत-पाकिस्तान मैच पर हैं। टीम इंडिया 4 जून को पाकिस्तान से पहला मैच खेलेगी। टीम इंडिया ने दो अभ्‍यास मैचों में बढ़िया प्रदर्शन की है। वहीं, पाकिस्तान ने एक अभ्‍यास मैच में बांग्लादेश के खिलाफ जीत दर्ज की है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसका दूसरा अभ्‍यास मैच बारिश के कारण नहीं हो सका। अभ्‍यास मैच भारतीय टीम के सात खिलाडि़यों ने शानदार प्रदर्शन कर पाकिस्‍तान के माथे पर चिंता की लकीर खींच दी है। शिखर धवनःन्यूजीलैंड के खिलाफ पहले पहले अभ्‍यास मैच में में टीम को बढ़िया ओपनिंग दी। इस मैच में 40 रन बनाए। वहीं, बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे मैच में 60 रन बनाए। हार्दिक पंड्याःन्यूजीलैंड के खिलाफ पहले मैच में बैटिंग का मौका नहीं मिला। बांग्लादेश के खिलाफ नॉटआउट 80 रन बनाए, वो भी सिर्फ 54 बॉल पर। दिनेश कार्तिकः लंबे समय से टीम इंडिया से बाहर हैं, लेकिन आते ही न्यूजीलैंड के खिलाफ 94* रन बनाए। विराट कोहलीः बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे मैच में बैटिंग नहीं की। पहले में नॉटआउट 52 रन बनाए। भुवनेश्वर कुमारः IPL-10 का जबरदस्त फॉर्म यहां भी जारी है। दोनों अभ्‍यास मैचों में 6 विकेट झटके। उमेश यादवः न्यूजीलैंड के खिलाफ 1 और बांग्लादेश के खिलाफ तीन विकेट झटके। वहीं पास्तिान के मोहम्मद शमी ने दोनों अभ्‍यास मैचों में 4 विकेट झटके। टीम के मेन बॉलर्स में से एक हैं। पाकिस्तान क्रिकेट टीम को चैम्पियंस ट्रॉफी का दावेदार तो नहीं माना जा रहा, लेकिन यंग प्लेयर्स की ये टीम उलटफेर कर सकती है। टीम में कई प्रतिभावान खिलाड़ी हैं, लेकिन टीम एकाएक बिखर जाती है। एकजुट होकर खेलें तो उलटफेर कर सकते हैं। टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी शोएब मलिक अच्छे फॉर्म में हैं। बांग्लादेश के खिलाफ मैच में 72 रन (66 बॉल) बनाए। टॉप स्कोरर रहे। इसके अलावा लोअर ऑर्डर में फहीम अशरफ ने हाफ सेन्चुरी (64*) लगाकर अपने इरादे जाहिर कर दिए हैं।