Share On

विराट ने लगाई डबल सेन्चुरी, लारा के रिकॉर्ड की बराबरी की, भ्‍ाारत ने 610 रन बनाकर पारी की घ्‍ाोषित

  • 26/11/2017

नागपुर,26 नवम्‍बर। श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन भारत ने अपनी पहली इनिंग 6 विकेट पर 610 रन बनाकर डिक्लेयर कर दी। जिसके बाद टीम इंडिया को 405 रन की लीड मिली। भारत की ओर से पहली इनिंग में विराट कोहली ने डबल सेन्चुरी लगाई तो वहीं चेतेश्वर पुजारा, मुरली विजय और रोहित शर्मा ने सेन्चुरी लगाई। इससे पहले मैच के दूसरे दिन स्टम्प्स तक मेजबान टीम ने 2 विकेट पर 312 रन बनाए थे। मैच में पहले दिन श्रीलंका की पूरी टीम पहली इनिंग में 205 रन पर आउट हो गई थी। मैच के तीसरे दिन भारत ने 312/2 रन से आगे खेलना शुरू किया। मेजबान टीम को तीसरा झटका चेतेश्वर पुजारा (143) के रूप में लगा। जो 124.5 ओवर में दासुन शनाका की बॉल पर बोल्ड हो गए। चौथा विकेट अजिंक्य रहाणे (2) के रूप में गिरा। 129.4 ओवर में वे दिलरुवान परेरा की बॉल पर उन्हें दिमुथ करुणारत्ने ने कैच कर लिया। इस वक्त टीम का स्कोर 410 रन था। विराट कोहली (213) के रूप में भारत का पांचवां विकेट गिरा। वे 169.5 ओवर में दिलरुवान परेरा की बॉल पर थिरिमाने को कैच दे बैठे। थोड़ी देर बाद ही आर. अश्विन (5) भी आउट हो गए। जब 173.5 ओवर में परेरा ने उन्हें बोल्ड कर दिया। इस वक्त टीम का स्कोर 597 रन था। मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बेहतरीन बैटिंग करते हुए अपने टेस्ट करियर की 5वीं डबल सेन्चुरी लगाई। वे 267 बॉल पर 213 रन बनाकर आउट हुए। ये विराट के टेस्ट करियर की 5वीं डबल सेन्चुरी रही। ये पांचों डबल सेन्चुरी उन्होंने कप्तान रहते हुए बनाई हैं। विराट ने अबतक 31 मैचों में कप्तानी की है। इसके साथ ही उन्होंने बतौर कप्तान ब्रायन लारा के सबसे ज्यादा डबल सेन्चुरी लगाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। लारा ने कप्तानी के 47 मैचों में 5 डबल सेन्चुरी लगाई थी। विराट ने अपने 200 रन 259 बॉल खेलकर पूरे किए थे। उन्होंने 150 रन बनाने के लिए 193 बॉल और 100 रन बनाने के लिए 130 बॉल खेली थीं। मैच के दूसरे दिन स्टम्प्स तक वे 70 बॉल पर 54* रन बनाकर नॉटआउट लौटे थे। मैच के दूसरे दिन चेतेश्वर पुजारा ने बेहतरीन बैटिंग करते हुए सेन्चुरी लगाई थी। तीसरे दिन वे 143 रन के स्कोर पर आउट हो गए। 362 बॉल की अपनी इनिंग में पुजारा ने 14 चौके भी लगाए। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक पुजारा 121 रन बनाकर नॉटआउट लौटे थे। पुजारा ने अपने 100 रन 246 बॉल पर पूरे किए थे। ये उनके टेस्ट करियर की 14वीं और श्रीलंका के खिलाफ चौथी सेन्चुरी रही। चेतेश्वर इस साल अबतक चार सेन्चुरी लगा चुके हैं। कोहली के नाम भी चार सेन्चुरी हैं। वर्ल्ड क्रिकेट में डीन एल्गर (5 सेन्चुरी) ही इन दोनों से आगे हैं। मैच के तीसरे दिन क्रीज पर उतरते ही चेतेश्वर पुजारा ने एक अनोखा रिकॉर्ड बना दिया। वे टेस्ट क्रिकेट में लगातार आठ दिन बैटिंग करने वाले पहले भारतीय क्रिकेटर बन गए। पुजारा ने कोलकाता में हुए सीरीज के पहले टेस्ट मैच में पांचों दिन बैटिंग की थी। नागपुर में तीसरे दिन बैटिंग करने उतरते ही उन्होंने लगातार 8 दिन बैटिंग करने का इंडियन रिकॉर्ड बना दिया।अबतक सिर्फ इंग्लैंड के एलन लैंब ही लगातार आठ दिन बैटिंग कर पाए थे। उन्होंने साल 1984 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में लगातार आठ दिन बल्लेबाजी की थी। ज्योफ्री बायकॉट और एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने टेस्ट मैच में लगातार सात दिन बैटिंग की है।