Share On

दूसरे दिन पीएम के जनसंपर्क कार्यालय पर मेडिकल छात्रों की हुंकार

  • 02/02/2017

वाराणसी। सरकार द्वारा मेडिकल प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तीन वर्ष की अवधि लिमिट करने के विरोध में गुरुवार को दूसरे दिन सैकड़ों की संख्‍या में मेडिकल की तैयारी कर रहे छात्रों ने रविंद्रपुरी स्थित प्रधानमंत्री के जनसंपर्क कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सरकार ने छात्रों के भविष्‍य के साथ खिलवाड़ किया है। जब तक सरकार अपना फैसला नहीं बदलती है छात्र प्रदर्शन के लिए बाध्‍य होंगे।

नेट की तैयारी कर रही छात्रा नेहा पांडेय ने बताया कि सरकार की ओर मिड शेषन में तीन बार नेट की परीक्षा लिमिट करने का अध्‍यादेश जारी करने से सैकड़ों छात्रों का भविष्‍य अध्‍ार में है। लाखों रूपये मेडिकल की तैयारी में छात्रों का खर्च होता है। अाक्रोशित छात्रों का कहना था कि जब तक सरकार अपना अध्‍यादेश वापस नहीं लेती है छात्र आंदोलन के लिए बाध्‍य होंगे। वहीं कुछ छात्रों का कहना था कि अब तक 25 वर्ष तक कोई भी छात्र नेट की परीक्षा दे सकता था। इस लिए नेट की परीक्षा उत्‍तीर्ण करने के लिए छात्र कई बार प्रयास करते थे। सरकार की ओर से तीन बार लिमिट होने के बाद लाखों छात्रों का भविष्‍य अधर में है। प्रदर्शन करने वालों में प्रमुख रूप से पूष्‍पेद्र, अरूण, अवनिश, कृष्‍णा, आलोक सहित सैकड़ों छात्र मौजूद थे।