Share On

महामना की बगिया फिर हुई अशांत, पथराव

  • 02/02/2017

वाराणसी। बीएचयू में प्रेस कांफ्रेस का कवरेज करने अए मीडियाकर्मियों पर बीएचयू के छात्र अचानक भड़क गए और पथराव करने लगे। कुछ देर के लिए वहां अफरातफरी मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी प्रकार से स्थिति पर काबू किया। ऐहतियात के तौर पर बीएचयू परिसर को सुरक्षाकर्मियों की गश्‍त बढ़ा दी गई है।

जानकारी के मुताबिक लड़की को लेकर हुए विवाद ने इतना तूल पकड़ लिया कि थोड़ी देर में छात्रों के दो गुट भिड़ गये। दो संकायों के छात्रों में हुए संघर्ष से विज्ञान संकुल चौराहे पर घंटों अफरातफरी रही। विश्वविद्यालय के सुरक्षाकर्मी जब हालात पर काबू नहीं पा सके तो पुलिस फोर्स मौके पर भेजी गयी, जिसने पहुंचकर हालात काबू किया। गर्लफ्रेंड का वीडियो बनाने पर माहौल गरम दोपहर बाद एक बजे के करीब कृषि विज्ञान संस्थान का एक छात्र विश्वनाथ मंदिर के समीप एक युवती के साथ बैठा था। आरोप है कि वहीं कुछ दूरी पर बिड़ला हास्टल का एक छात्र उनका वीडियो बना रहा था। वीडियो बना रहे छात्र का कहना है कि सार्वजनिक स्थल पर दोनों काफी अंतरंग होकर बैठे थे। उसने उन्हें जब मना किया तो उनमें बहस होने लगी। वहां उस वक्त कृषि विज्ञान के कई अन्य छात्र भी थे, जिन्होंने उनके बीच हो रहे विवाद के दौरान मना करने वाले छात्र की पिटाई कर दी और बाद में उसे प्राक्टोरियल बोर्ड के हवाले कर दिया। बिड़ला हास्टल के छात्र ने सुरक्षाकर्मियों को जब वीडियो दिखाया तो उन्होंने उसे छोड़ दिया। उसे छोड़े जाने से कृषि संकाय के छात्र नाराज हो गये। इस बीच दोनों तरफ से काफी संख्या में छात्र वहां जुट गये। विज्ञान संकुल चौराहा पर दोनों गुटों में मारपीट होने लगी। लाठी-डंडों के साथ ही दोनों तरफ से पथराव होने लगा। इससे उस मार्ग पर अफरातफरी मच गयी। वहां पहुंचे प्राक्टोरियल बोर्ड के लोग भी उपद्रवी छात्रों को रोक पाने में नाकाम रहे। मीडियाकर्मियों को भी बनाया निशाना इस बीच, बवाल को कैमरे में कैद कर रहे दो मीडियाकर्मी उमेश गुप्ता और ओमकार को भी छात्रों ने दौड़ाकर पीटा और उसके कैमरे तोड़ने की कोशिश की। बाद में एसपी सिटी राजेश यादव फोर्स लेकर मौके पर पहुंचेऔर उपद्रवियों को खदेड़ा। इसके बावजूद विश्वविद्यालय में तनाव बना हुआ है और वहां अतिरिक्त फोर्स तैनात की गयी है।