Share On

भारत-श्रीलंका टेस्ट,चौथे दिन का खेल खत्‍म, दूसरी पाली में श्रीलंका ने 31 रन पर खोए 3 विकेट,जीत से 7 विकेट दूर टीम इंडिया

  • 05/12/2017

नई दिल्ली,5 दिसम्‍बर। सीरीज के आखिरी टेस्ट के चौथे दिन का खेल खत्म होने तक श्रीलंका ने 410 रन के टारगेट का पीछा करते हुए 3 विकेट खोकर 31 रन बना लिए हैं। डिसिल्वा (13) और मैथ्यूज (0) क्रीज पर हैं। 16वें ओवर में रवींद्र जडेजा ने 2 विकेट लेकर श्रीलंका को बैकफुट पर डाल दिया। करुणारत्ने 13 और लकमल बिना खाता खोले आउट हुए। श्रीलंका को पहला झटका मो. शमी ने समरविक्रमा को 5 रन के निजी स्कोर पर आउट कर दिया। इससे पहले भारत ने अपनी दूसरी इनिंग 5 विकेट के नुकसान पर 246 रन बनाकर डिक्लेयर कर दी। रोहित 50 और जडेजा 4 रन बनाकर नॉटआउट रहे। श्रीलंका अपनी पहली इनिंग में 373 रन पर ऑलआउट होकर भारत से 163 रन पीछे रह गई थी। वहीं, टीम इंडिया ने अपनी पहली इनिंग 7 विकेट पर 536 रन बनाकर डिक्लेयर कर दी थी। दूसरी इनिंग में टीम इंडिया को पहला झटका मुरली विजय के रूप में लगा। वो 9 रन बनाकर आउट हुए। उनका विकेट लकमल ने लिया। वहीं, रहाणे सिर्फ 10 रन बनाकर दूसरे विकेट के रूप में आउट हुए। उन्हें परेरा ने संदाकर के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद शिखर धवन और चेतेश्वर पुजारा ने तीसरे विकेट के लिए 77 रन की पार्टनरशिप की। पुजारा सिर्फ 1 रन से हाफ सेन्चुरी से चूक गए। उन्हें डिसिल्वा ने मैथ्यूज के हाथों कैच आउट करवाया। टीम इंडिया को चौथा झटका ओपनर धवन के आउट होने से लगा। धवन 67 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने 83 बॉल में फिफ्टी लगाई। इसके बाद सिक्स लगाकर उन्होंने उन्होंने टेस्ट में अपने 2000 रन भी पूरे किए। 5वें विकेट के रूप में कप्तान विराट कोहली आउट हुए। उन्होंने 50 रन की इनिंग खेली। विराट को गमागे ने लकमल के हाथों कैच आउट करवाया। दूसरी इनिंग में श्रीलंका के लिए पांच बॉलर्स ने बॉलिंग की और सभी को 1-1 विकेट मिला। भारत ने दूसरी इनिंग में 4.7 के रनरेट से रन बनाए। धनंजय डिसिल्वा कुछ महंगे साबित हुए और उन्होंने अपने 5 ओवर में 31 रन खर्च किए। उन्होंने पुजारा का अहम विकेट लिया। चौथे दिन सुबह श्रीलंकाई टीम अपनी पहली इनिंग में 373 रन पर ऑलआउट हो गई। वो टीम इंडिया के स्कोर से 163 रन पीछे रह गई। चौथे दिन 9 विकेट पर 356 रन से आगे खेलते हुए श्रीलंकाई बैट्समैन दिनेश चांडीमल अपने और टीम के स्कोर में 17 रन ही जोड़ सके। चांडीमल 164 रन बनाकर इशांत शर्मा की बॉल पर कैच आउट हुए। इससे पहले तीसरे दिन चांडीमल और एंजेलो मैथ्यूज की सेन्चुरी के दम पर श्रीलंका फॉलोऑन टालने में सफल रही थी। मैच के तीसरे दिन श्रीलंका ने 3 विकेट पर 131 रन से आगे खेलना शुरू किया। इस दौरान क्रीज पर मौजूद दिनेश चांडीमल और एंजेलो मैथ्यूज ने काफी संभलकर बैटिंग की और वे टीम के स्कोर को 256 रन तक ले गए। दोनों बैट्समैन ने अपनी-अपनी सेन्चुरी पूरी की। पहले सेशन में इंडियन बॉलर्स विकेट के लिए तरस गए। दूसरे सेशन में बॉलर्स को एकमात्र सफलता एंजेलो मैथ्यूज के रूप में मिली। आखिरी सेशन में इंडियन बॉलर्स ने जोरदार वापसी की और 5 विकेट गिरा दिए। तीसरे दिन श्रीलंका के लिए मैथ्यूज (111) और समरविक्रमा (33 रन) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। कप्तान दिनेश चांडीमल 147* रन बनाकर खेल रहे हैं। इससे पहले रविवार को मैच दूसरा दिन एकबार फिर भारत के नाम रहा था। इस दौरान भारत ने अपनी पहली इनिंग 536/7 रन पर डिक्लेयर की। जवाब में दिन का खेल खत्म होने तक श्रीलंका ने 131 रन बनाए थे। श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल ने मैच में बेहतरीन बैटिंग करते हुए टेस्ट करियर की 10वीं सेन्चुरी लगाई। उन्होंने अपने 100 रन 265 बॉल पर पूरे किए। जिसमें उन्होंने 13 चौके भी लगाए। चांडीमल ने अपने 50 रन 145 बॉल पर पूरे किए थे। मैच के दूसरे दिन वे 25 रन बनाकर नॉटआउट लौटे थे। श्रीलंका के लिए दो विकेट गिरने के बाद खेलने उतरे एंजेलो मैथ्यूज ने शानदार बैटिंग करते हुए टेस्ट करियर की 8वीं सेन्चुरी लगाई। वे 111 रन बनाकर आउट हुए। अपनी इनिंग में मैथ्यूज ने 268 बॉल खेलीं, जिसमें उन्होंने 14 चौके, 2 सिक्स भी लगाए। मैथ्यूज ने अपने 100 रन 231 बॉल पर पूरे किए थे। आउट होने से पहले उन्होंने कप्तान चांडीमल के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 181 रन की पार्टनरशिप भी की। सेन्चुरी लगाने से पहले एंजेलो मैथ्यूज को मैच में तीन जीवनदान भी मिले थे। इस दौरान कोहली, साहा और रोहित ने उनका कैच छोड़ा था। एंजेलो को 81.1 ओवर में 99 रन के स्कोर पर भी एक लाइफलाइन मिली थी। जब इशांत शर्मा की बॉल पर रोहित शर्मा ने स्लिप में उनका हाथ में आया आसान कैच छोड़ दिया था। इससे पहले जब 9.3 ओवर में विराट ने उनका कैच छोड़ा था तब वे 6 रन पर खेल रहे थे। वहीं जब साहा ने उनका कैच छोड़ा था तब वे 93 रन पर खेल रहे थे।