Share On

फ्रांस 20 साल बाद फिर बना फुटबाल का चैम्पियन, फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से हराया

  • 16/07/2018

मॉस्को,16 जुलाई। फ्रांस ने 21वां फुटबॉल वर्ल्ड कप जीत लिया। रविवार को रूस के लुझिनकी स्टेडियम में खेले गए फाइनल में उसने क्रोएशिया को 4-2 से हराया। फ्रांस दूसरी बार वर्ल्ड चैम्पियन बना है। इससे पहले उसने 1998 के वर्ल्ड कप फाइनल में ब्राजील को 3-0 से हराया था। फ्रांस ने वर्ल्ड कप करियर में क्रोएशिया के खिलाफ जीत का रिकॉर्ड बरकरार रखा। 1998 के सेमीफाइनल में भी फ्रांस ने क्रोएशिया को 2-1 से हराया था। इस टूर्नामेंट में फ्रांस ने हर मैच में पहला गोल दागा और विपक्षी टीम पर दबाव बनाया। उसने हर मैच 90 मिनट में जीता। फ्रांस ने फाइनल समेत कोई भी मुकाबला एक्स्ट्रा टाइम या पेनल्टी शूटआउट तक नहीं पहुंचने दिया। फ्रांस के 19 साल के एम्बाप्पे सितारा खिलाड़ी बनकर उभरे। मैच के बाद ब्राजील के महान फुटबॉलर पेले ने उन्हें बधाई दी। वहीं, फ्रांस के मीडिया ने कहा कि एम्बाप्पे नई सदी के पेले और जिदान हैं। उन्होंने टीम के लिए वही किया, जो 1958 के फाइनल में ब्राजील के लिए पेले ने और 1998 के फाइनल में फ्रांस के लिए जिदान ने किया था। मैच का पहला गोल (18वां मिनट): क्रोएशिया के स्ट्राइकर मारियो मांजुकिच ने आत्मघाती गोल किया। फ्रांस 1-0 से आगे। लगातार सातवें मैच में फ्रांस ने पहला गोल कर विपक्षी टीम पर दबाव बनाया। दूसरा गोल (28वां मिनट): क्रोएशिया के मिडफील्डर इवान पेरीसिच ने डोमागोज विदा के एसिस्ट पर गोल किया। स्कोर 1-1 से बराबर। क्रोएशिया ने लगातार चौथे मैच में पिछड़ने के बाद बराबरी की। तीसरा गोल (38वां मिनट): फ्रांस के स्ट्राइकर एंटोनी ग्रीजमैन ने पेनल्टी को गोल में बदला। फ्रांस 2-1 से आगे। क्रोएशिया की तरफ से हैंडबॉल के चलते फ्रांस को यह मौका मिला। फर्स्ट हाफ के बाद :चौथा गोल (59वां मिनट): पॉल पोग्बा ने ग्रीजमैन के रिबाउंड को गोलपोस्ट में डाला। फ्रांस 3-1 से आगे। पोग्बा का टूर्नामेंट में यह पहला गोल था। पांचवां गोल (65वां मिनट): एम्बाप्पे ने पोग्बा के पास पर गोल किया। फ्रांस 4-1 से आगे। एम्बाप्पे का टूर्नामेंट में चौथा गोल था। छठवां गोल (69वां मिनट): फ्रांस के गोलकीपर ह्यूगो लोरिस की गलती के बाद क्रोएशिया के मांजुकिच ने गोल किया। इसके बाद भी फ्रांस 4-2 से आगे।